टेरर अटैक से तिलमिलाया पाक, रातभर में मार डाले 37 आतंकी - revanchal times new

revanchal times new

निष्पक्ष एवं सत्य का प्रवर्तक

Breaking

रेवांचल टाइम्स अखबार पाठकों से अनुरोध करता है कि आप अपने सुझाव हम तक जरूर भेजें.. ताकि आने वाले समय मे हम आपकी मदद से और भी बेहतर कार्य कर सकें... साथ ही यदि आपको लेख अच्छा लगे तो इसे ओरों तक भी पहुंचाए.. प्रकाशन हेतु ख़बरें, विज्ञप्ति मोबाइल- 9406771592 पर व्हाट्सएप्प करें

Friday, February 17, 2017

टेरर अटैक से तिलमिलाया पाक, रातभर में मार डाले 37 आतंकी

सिंध प्रांत में हमले से तिलमिलाया पाकिस्तान, 37 आतंकी ढेर, अफगानिस्तान के सामने जताया विरोध

इस्लामाबाद
एक सूफी दरगाह पर हुए आतंकी हमले में 70 से ज्यादा लोगों की मौत के बाद पाकिस्तान ने पूरे देश में आतंकियों के खिलाफ बड़े पैमाने पर अभियान छेड़ दिया है। सरकार के एक अधिकारी ने बताया कि विभिन्न शहरों में दर्जनों संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं, कई जगहों पर मुठभेड़ में 37 आतंकवादियों को मार गिराया गया। अधिकारी के मुताबिक, आने वाले कुछ दिनों तक यह अभियान जारी रहेगा।
पैरामिलिटरी रेंजर्स की ओर से जारी बयान में बताया गया कि सिंध प्रांत में चलाए गए ऑपरेशंस में कम से कम 18 आतंकियों को ढेर किया गया। वहीं, पुलिसवालों के मुताबिक, खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में भी 11 आतंकी मारे गए। पेशावर के रेगी इलाके में भी एक सर्च ऑपरेशन में तीन आतंकियों को मार गिराया गया। इनके पास से भारी तादाद में हथियार और गोला बारूद बरामद किए गए हैं। सूत्रों ने बताया कि अफगानिस्तान सीमा से सटे एक चेकपोस्ट पर भी आतंकियों के हमले के बाद जवाबी कार्रवाई में चार आतंकी मार गिराए गए।
बता दें कि सिंध प्रांत के सहवान कस्बे में स्थित लाल शाहबाज कलंदर दरगाह के भीतर शुक्रवार रात एक आत्मघाती हमलावर द्वारा किए गए विस्फोट में 70 से अधिक लोगों की मौत हो गई और 150 से अधिक लोग घायल हो गए। आतंकी संगठन आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। सूफी दरगाह पर यह हमला उस वक्त हुआ है जब एक दिन पहले ही पाकिस्तान सरकार ने देश में आतंकी हमलों में हुई बढ़ोतरी को देखते हुए उन सभी तत्वों को ‘मिटाने’ का संकल्प लिया था जो देश में शांति एवं सुरक्षा पर खतरा पैदा कर रहे हैं।

अफगानिस्तान को दी मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट
आतंकी हमले से तिलिमिलाए पाकिस्तान ने शुक्रवार को अफगानिस्तान के दूतावास के अधिकारियों को रावलपिंडी स्थित जनरल हेडक्वॉटर्स बुलाया। साथ ही अफगानिस्तान की जमीन का इस्तेमाल करके पाकिस्तान के खिलाफ हमलों की साजिश रचे जाने का आरोप लगाते हुए विरोध जताया। अफगान अधिकारियों को पाकिस्तानी आर्मी की ओर से 76 मोस्ट वॉन्टेड आतंकियों की लिस्ट सौंपी गई। बाद में इंटर सर्विसेज पब्लिक रिलेशंस के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने एक ट्वीट करके इसकी पुष्टि की। गफूर के मुताबिक, अफगानिस्तान से कहा गया है कि वह या तो आतंकियों के खिलाफ 'तत्काल ऐक्शन' ले या फिर उन आतंकियों को उन्हें सौंप दे।

No comments:

Post a Comment